Free songs
BREAKING

लखनऊ : ठसक हो तो आईपीएस रोहित पी कनय जैसी, पिछले 5 अगस्त को हुए बालिका गृह कांड में लापरवाही पर हटाए गए तत्कालीन देवरिया जिले के एसपी रोहित जाते जाते अपने विदाई के दिन अपने साथ उस वक्त की सरकारी गाड़ी, दो गनर और ड्राइवर तथा फालोअर भी साथ ले गए. 15 अगस्त को एसपी रोहन पी करने को लखनऊ पुलिस मुख्यालय से संबंध कर दिया था और 17 अगस्त को उनको लखनऊ पहुंचाने के लिए पुलिस लाइन से गाड़ी, दो गनर, एक चालक और एक फालोअर गए थे. अपनी विदाई के साथ ले गये इन सबको कप्तान साहब ने वापस करना उचित नहीं समझा. सूत्रों की माने तो इस बात की जानकारी पूर्व एसपी एन कोलांची को मिली तो उन्होंने गाड़ी सहित सभी को लौटाने की बात कही लेकिन उस पर रोहित पी कनी द्वारा कोई संज्ञान नहीं लिया गया. लेकिन फिलहाल वर्तमान एसपी प्रमोद कुमार द्वारा इस विषय को गंभीरता से लेने और पुलिस महानिदेशक से लिखा पढ़ी करने के बाद डीजीपी के निर्देश पर 11 मार्च को 7 महीने बाद इन सब की वापसी की जा चुकी.

afsarnama
Loading...
Scroll To Top