Free songs
BREAKING

ओपी के डीजीपी बनने के बाद यूपी में पहला बड़ा फेरबदल, 26 आईपीएस अफसरों के तबादले

# मायाराज में चर्चित पुलिस अफसरों की योगीराज में अच्छी तैनाती   

अफसरनामा

लखनऊ : क़ानून व्यवस्था और अपराध की स्थिति को लेकर लगातार उठ रहे सवालों के बीच, ओपी सिंह के डीजीपी बनने के बाद आईपीएस अफसरों के तबादलों की पहली सूची में योगी आदित्य नाथ सरकार ने तीन जोन  के एडीजी सहित 26 अफसरों को इधर से उधर किया है. वाराणसी, बरेली और लखनऊ में नये एडीजी जोन तैनात किये गए हैं जबकि गोरखपुर जोन में पहली बार अपर पुलिस महानिदेशक की तैनाती की गयी है. लखनऊ जोन के तो एडीजी के साथ ही आईजी रेंज को भी हटा दिया गया है. मायावती सरकार में लगातार अच्छे पदों पर रहे कुछ अफसरों को योगी सरकार ने महत्वपूर्ण जिम्मेदारियां सौंपी हैं. अखिलेश यादव की पिछली सरकार में ये अफसर या तो किनारे पड़े थे या फिर केंद्रीय प्रतिनियुक्ति पर चले गए थे.

मायावती सरकार के लाडले अफसरों में गिने जाने वाले प्रेम प्रकाश को बरेली जोन का अपर पुलिस महानिदेशक बनाया गया है. वैसे पिछले कुछ महीनों से इस विवादित अफसर पर योगी सरकार की कृपा बरस रही है. और दलित अफसरों को तवज्जो देने के नाम पर इन्हें मिर्जापुर रेन्ज का आईजी बनाया गया था जहां से अपर पुलिस महानिदेशक पद पर प्रोन्नति के बाद अब बरेली भेजा गया है. बरेली में इस पद पर तैनात रहे वृजराज को पिछले दिनों दिल का दौरा पडा था और बाईपास सर्जरी के बाद वे आराम कर रहे हैं. लम्बे अरसे से साईड पोस्टिंग में चल रहे 1991 बैच के आईपीएस अफसर दावाशेरपा को गोरखपुर जोन में पहली बार सृजित अपर पुलिस महानिदेशक के पद पर भेजा गया है. वे अभी तक सीबीसीआईडी में तैनात थे. गोरखपुर के पुलिस महानिरीक्षक भी बदले गए हैं. यहाँ तैनात 1997 बैच के आईपीएस मोहित अग्रवाल की कार्यशैली से मुख्यमंत्री नाराज थे. गोरखपुर में ही तैनात 2000 नीलाब्जा चौधरी को प्रोन्नति के बाद वहीँ पर आईजी रेंज बना दिया गया है. वाराणसी में एडीजी के पद पर तैनात रहे 1987 बैच के विश्वजीत महापात्रा को तरक्की के बाद भ्रष्टाचार निवारण संगठन का पुलिस महानिदेशक बनाया गया है. वाराणसी जोन के अपर पुलिस महानिदेशक पद पर 1989 बैच के पीवी रामाशास्त्री को भेजा गया है जो केंद्रीय प्रतिनियुक्ति से वापसी के बाद प्रतीक्षारत थे. केंद्रीय प्रतिनियुक्ति से वापस लौटे 1991 बैच के अधिकारी पियूष आनंद को अपर पुलिस महानिदेशक स्थापना बनाया गया है.

पुलिस एकादमी मुरादाबाद में तैनात 1991 बैच के राजीव कृष्णा को लखनऊ जोन का एडीजी बनाया गया है जबकि अभी तक यहाँ तैनात रहे इसी बैच के अभय कुमार प्रसाद को इसी पद पर आर्थिक अपराध अनुसंधान संगठन में भेजा गया है. 1994 बैच के आईजी टेलीकाम सुजीत पाण्डेय अब लखनऊ रेंज के आईजी होंगे. श्री पाण्डेय को तेज तर्रार अफसरों में गिना जाता है जो मेरठ और आगरा जोन ममें आईजी रहने के अलावा एसटीएफ में भी इस पद पर तैनात रहे हैं. अभी तक यहाँ तैनात रहे इसी बैच के जय नारायण सिंह को हटाकर पीएसी में भेजा गया है. जय नारायण सिंह के खिलाफ काफी दिनों से कई शिकायतें थीं लेकिन पूर्व पुलिस महानिदेशक सुलखान सिंह की पसंद होने के नाते ये अपने पद पर बने रहे थे. 1994 बैच के ही विनोद कुमार सिंह को मुरादाबाद रेंज का आईजी बनाया गया है. केंद्रीय प्रतिनियुक्ति के दौरान गृह मंत्री राजनाथ सिंह के ओएसडी रहे विनोद कुमार सिंह प्रदेश में योगी आदित्यनाथ की सरकार बनने पर मूल कैडर में वापस हुए थे. उस वक्त इनकी तैनाती किसी जोन में न किये जाने पर काफी आश्चर्य व्यक्त किया गया था. 1994 बैच के ही डीके ठाकुर को बरेली रेंज का पुलिस महानिरीक्षक बनाया गया है. बसपा सरकार के दौरान लखनऊ के डीआईजी/एसएसपी के तैनाती के वक्त इनपर सपा के एक नेता को जूतों से कुचलने का आरोप लगा था नतीजतन जब 2012 में अखिलेश यादव की सरकार आई तो इन्हें सजा के तौर पर लम्बे वक्त तक आरटीसी चुनार जैसे महत्वहीन स्थान पर तैनात रहना पडा था. 1996 बैच के विजय सिंह मीना मिर्जापुर रेंज के आईजी होंगे जो अभी तक पुलिस महानिदेशक के दफ्तर में लोक शिकायत का  काम देख रहे थे. 1998 बैच के एसके भगत को आईजी  रेंज बरेली के पद से हटाकर पुलिस महानिदेशालय में आईजी अपराध बनाया गया है. लम्बे समय बाद श्री भगत को साईड पोस्टिंग मिली है.   सपा-बसपा की सरकारों में श्री भगत की तैनाती जोलों और रेंज में होती रही है और योगी सरकार ने भी इन्हें अभी तक बरेली में तैनात कर रखा था.  मुरादाबाद रेंज के डीआईजी ओंकार सिंह अब इसी पद पर फैजाबाद रेंज में भेजे गए हैं. फैजाबाद में अभी तक इस सरकार ने आईजी का पद सृजित कर रखा था. बांदा के डीआईजी रेंज ज्ञानेश्वर तिवारी को हटाकर पीएसी सीतापुर भेजा गया है जबकि डीआईजी कार्मिक के पद पर पुलिस महानिदेशक कार्यालय में तैनात 2003 बैच के आईपीएस मनोज तिवारी अब चित्रकूट धाम रेंज बांदा का काम देखेंगे. डी आईजी पुलिस भारती बोर्ड शरद सचान को सहारनपुर रेंज भेजा गया है जबकि वहां तैनात केएस इमैनुअल केंद्रीय प्रतिनियुक्ति के लिए कार्यमुक्त कर दिए गए हैं. आईजी बजट पुलिस मुख्यालय डा केएस प्रताप कुमार को इसी पद पर पुलिस एकादमी मुरादाबाद भेजा गया है. बहुत  जल्द ही इनको अपर पुलिस महानिदेशक के  पद पर प्रोन्नति मिलनी है.  अपर पुलिस महानिदेशक स्थापना एसबी शिरोडकर को इसी पद पर अभी सूचना मुख्यालय अपर पुलिस महानिदेशक/पुलिस महानिरीक्षक कानून व्यवस्था हरीराम शर्मा को अपर पुलिस महानिदेशक प्रशासन बनाया गया है. आईजी क्राईम 1993 बैच के सुनील गुप्ता को प्रोन्नति के बाद अपर पुलिस महानिदेशक सीबीसीआईडी बनाया गया है

afsarnama
Loading...
Scroll To Top