Free songs
BREAKING

जवाहर बिजली गिरी जीएम यूएस गुप्ता पर, हटाए गए

  • “अफसरनामा ” की खबर का असर, GM, US Gupta पर गिरी गाज.

  • मुख्यमंत्री सचिवालय की सख्ती के चलते हुए आफिस अटैच .

  • इस लूटकांड के दूसरे किरदार JE Surendra पर अभी कोई कार्यवाई नहीं.  

अफसरनामा ब्यूरो 

लखनऊ : सरकारी माल की खुले आम लूट करवाने वाले जवाहर तापीय परियोजना के महाप्रबंधक यूएस गुप्ता पर आखिर गाज गिर ही गई. जेई सुरेंद्र के साथ मिलकर परियोजना के माल पर खुले आम डाका डालने वाले जीएम को उसके आका भी मुख्यमंत्री के कोप से नहीं बचा पाए. विभाग ने सोमवार को GM, US Gupta पर इस पूरे काण्ड में पहली कार्यवाही करते हुए उनको मुख्यालय से अटैच कर दिया जबकि JE Surendra Kumar अभी भी वहीँ तैनात है.

अफसरनामा” की खबर का असर, अफसरनामा ने लूट की घटना के अंदर के तथ्यों को सामने लाते हुए जीएम यूएस गुप्ता व जेई सुरेन्द्र कुमार के संबंधों को उजागर किया था. इसके अलावा “अफसरनामा” ने GM, US Gupta को हरदुआगंज में जबरदस्ती दिए गए प्रभार का मुद्दा भी उठाया था, जोकि नियम विपरीत भी था. इसको संज्ञान में लेते हुए विभाग द्वारा 15 सितम्बर 2018 को GM, US Gupta से हरदुआगंज का चार्ज ले लिया था लेकिन उनको जवाहरपुर से हटाने में 2 दिन लगे.

इस मुद्दे को उठाये जाने के बाद इस पूरे प्रकरण में मुख्यमंत्री सचिवालय की सख्ती से हुई यह कार्यवाही विभाग के जिम्मेदारानों की कार्यशैली पर सवाल खडा करता है कि आखिर वह क्या कर रहे थे. वैसे अभी भी इस कार्यवाही को पूर्ण नहीं माना जा सकता. जानकार कहते हैं कि इतने बड़े व सुनियोजित काण्ड में संलिप्त अधिकारी/कर्मचारी की सजा केवल यही नहीं है. इसके अलावा इस पूरे काण्ड के दुसरे किरदार जेई सुरेन्द्र कुमार को अभी वहां से न तो हटाया गया है और न ही उसके खिलाफ कोई कार्यवाही हुई है.

एटा की जवाहर परियोजना की सरिया चोरी में जीएम गुप्ता और जेई सुरेंद्र की मिली भगत की बात आ रही सामने  

कोयले से भी काली हैं जीएम यूएस गुप्ता और जेई सुरेंद्र की कारस्तानियां

 

 

 

afsarnama
Loading...
Scroll To Top